Uncategorized

Brahmin

If the Brahmin walks firmly on his karmpath, then the Dev Shakti walks with him!

Brahmin When Akbar saw a Brahmin begging in a pathetic condition, he satirically said to Birbal – ‘Birbal! These are your Brahmins! Those who are known as Brahma Devta. They are beggars. Birbal did not say anything at that time. But when Akbar went to the palace, Birbal came back and asked the Brahmin why …

If the Brahmin walks firmly on his karmpath, then the Dev Shakti walks with him! Read More »

वीर बाला किरन

अकबर की छाती पर पैर रखकर खड़ी वीर बाला किरन!

वीर बाला किरन अकबर प्रतिवर्ष दिल्ली में नौरोज़ का मेला आयोजित करवाता था….! इसमें पुरुषों का प्रवेश निषेध था….! अकबर इस मेले में महिला की वेष-भूषा में जाता था और जो महिला उसे मंत्र मुग्ध कर देती….उसे दासियाँ छल कपट से अकबर के सम्मुख ले जाती थी….! एक दिन नौरोज़ के मेले में महाराणा प्रताप …

अकबर की छाती पर पैर रखकर खड़ी वीर बाला किरन! Read More »

मृत्यु

“मृत्यु टाले नहीं टलती चाहे कितनी भी चतुराई की जाए”

मृत्यु भगवान विष्णु गरुड़ पर बैठ कर कैलाश पर्वत पर गए।द्वार पर गरुड़ को छोड़ कर खुद शिव से मिलने अंदरचले गए। तब कैलाश की अपूर्व प्राकृतिक शोभाको देख कर गरुड़ मंत्रमुग्ध थे कि तभी उनकी नजरएक खूबसूरत छोटी सी चिड़िया पर पड़ी। चिड़िया कुछ इतनी सुंदर थी कि गरुड़ के सारेविचार उसकी तरफ आकर्षित …

“मृत्यु टाले नहीं टलती चाहे कितनी भी चतुराई की जाए” Read More »